22 October 2015

ट्रैक्टर हादसे ने लडभड़ोल क्षेत्र से छीना 33 वर्षीय युवक, इसी ट्रैक्टर से थी बेहतर जिंदगी की उम्मीद

लडभड़ोल : जिंदगी का कोई भरोसा नहीं। कब, किसको, क्या हो जाए। कब किसकी साँसे उखड़ जाए यह किसी को नहीं पता। ऐसे ही एक हादसे में लडभड़ोल क्षेत्र ने अपने एक युवक को हमेशा के लिए खो दिया। शुक्रवार दोपहर गोलवां गांव के पास हुए सड़क हादसे में घायल हुए भ्रां गांव के विकेश के घाव इतने गहरे थे की वह इनके आगे जिंदगी की जंग हार गए। रविवार दोपहर उन्होने काँगड़ा के एक अस्पताल में आखिरी साँस ली।


ग़मगीन हुआ क्षेत्र
मात्र 33 वर्ष की उम्र में विकेश के दुनिया छोड़ जाने की खबर से हर कोई ग़मगीन हो गया। उनके पैतृक गांव में जैसे ही निधन की खबर पहुंची तो ग्रामीणों की आँखों से आंसू टपक पड़े। निहायती शांत स्वाभाव व मिलनसार विकेश चौहान काफी वर्षों से लडभड़ोल क्षेत्र में बतौर कंडक्टर सेवाएं दे रहे थे। लॉक डाउन में जब परिवहन सेवाएं बंद हुए तो उन्होंने आत्मनिर्भर बनने के लिए एक ट्रैक्टर ख़रीदा था ताकि वह अपने पैरों पर खड़ा हो सके।


शुक्रवार को हुआ था हादसा
उन्हें क्या पता था की अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए उनका यह ट्रैक्टर उनकी जिंदगी ही उनसे छीन लेगा। शुक्रवार को यही ट्रैक्टर द्रमण गांव के पास ट्राली सहित 300 फ़ीट नीचे लुढ़क गया था। हादसे में विकेश चौहान गंभीर रूप से घायल हो गया था। तब से उसका उपचार काँगड़ा के एक अस्पताल में चल रहा था। रविवार दोपहर 1 बजे उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। घटना से पूरी ऊटपुर पंचायत में शोक का माहौल है।

लडभड़ोल.कॉम वेबसाइट पर इस तरह के विज्ञापन दिखाने के लिए सम्पर्क करें 8146121718





loading...
Post a Comment Using Facebook