22 October 2015

धर्मपुर के सैनिक के संपर्क में आए 1000+ लोग, बारात के साथ पहुंचा था नेरी-लांगणा

धर्मपुर : होम क्वारंटाइन में रखा व्यक्ति शादी समारोह व क्रिकेट प्रतियोगिता में शिरकत करता रहा और शनिवार को जब कोरोना पॉजिटिव निकला तो आधा दर्जन गांवों में हड़कंप मच गया। धर्मपुर उपमंडल की लंगेहड़ पंचायत के ग्यूण गांव में एक सैनिक के कोरोना पॉजिटिव आने से कई गांवों में दहशत का माहौल है।

एक हजार से ज्यादा लोगों के सम्पर्क में आया
दिव्य हिमाचल में छपी खबर के अनुसार इस व्यक्ति के प्राथमिक संपर्क में एक हजार से भी ज्यादा लोगों के आने की आशंका है। ग्यून क्षेत्र से सेना का जवान जम्मू से 21 जुलाई को घर पहुंचा था। उसे होम क्वारंटाइन रखा गया था, लेकिन उसने प्रशासन की शर्तों को धत्ता बताते हुए शादी समारोह, क्रिकेट प्रतियोगिताओं के अलावा कई जगह आना-जाना किया। पहली अगस्त को बीएमओ संधोल के आग्रह पर मेडिकल कॉलेज नेरचौक की टीम ने जब बारह लोगों के सैंपल लिए तो उसमें ग्राम पंचायत लंगेहड़ और पैहड के तीन लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। यह तीनों सैनिक हैं, जो जम्मू और असम से आए थे।

क्रिकेट प्रतियोगिता में लिया हिस्सा
प्रशासन की लापरवाही देखिए कि दो लोगों को ग्यूण व बंजाल में होम क्वारंटाइन तथा भतौर निवासी एक सैनिक को रेस्ट हाउस मंडप में इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन किया गया था। दो लोगों ने तो कोविड-19 के दिशा.निर्देशों का पालन किया, लेकिन ग्यूण निवासी संजीव ने घर पहुंचते ही अवहेलना शुरू कर दी। उसने दो शादी समारोहों, क्रिकेट प्रतियोगिता में भी भाग लिया। बताया जा रहा है कि वह जलशक्ति विभाग के बरोटी स्थित सेक्शन कार्यालय में कार्यरत अपने मित्र से मिलने भी कई बार गया और वहां अन्य लोगों से भी मिला है। एक नाई से उसने कटिंग कराई है। शादी समारोह में करीब सौ लोगों के साथ कॉकटेल पार्टी भी अटैंड की।

नेरी लांगणा में बारात के साथ आया
सोमवार को लंगेहड़ पंचायत की प्रधान आशा देवी के पास आए करीब चालीस लोगों ने माना है कि वह संक्रमित व्यक्ति के कांटेक्ट में आ चुके हैं अतः उनका कोरोना टेस्ट किया जाए। यह व्यक्ति जोगिंद्रनगर के नेरी लांगणा और धर्मपुर में बारातों में गया है। इसके अलावा इसने मंडप और सिद्धपुर में आयोजित क्रिकेट प्रतियोगिताओं में भाग लिया। कुल-मिलाकर यह एक हजार लोगों से भी अधिक के साथ प्राइमरी कांटैक्ट में आया है। इसी के गांव का जीप चालक इसे घर तक लाया था। चालक जलशक्ति विभाग में नौकरी करता है तथा वह बनेरडी स्थित पंप हाउस में छह सात कर्मचारियों से मिला है, जबकि भतौर निवासी कोरोना पॉजिटिव को लाने वाला टैक्सी चालक दूसरे दिन ही बारात लेकर चला गया। इस पूरे प्रकरण से स्थानीय जनता, स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन सकते में है।





loading...
Post a Comment Using Facebook