22 October 2015

Breaking : सावन महीने में लडभड़ोल क्षेत्र के मंदिर खोलने पर प्रशासन ने लिया बड़ा फैसला

लडभड़ोल : कोरोना संकट के बीच जहां एक तरफ़ इससे संक्रमित हो रहे मरीजो़ं की संख्या में लगातार बढ़ने के कारण लोग परेशान हैं तो वहीं बहुत से लोग इस बात से भी आहत है कि सावन जैसे पावन माह में वो मंदिरों में जाकर उस विधि-विधान से जाकर पूजा अर्चना नहीं कर पाएंगे। इसी बीच एक और ऐसी खबर सामने आई है जो जानकर आपको शायद अच्छा न लगे।

केवल पुजारी होंगे शामिल
जी हां, खबरों की मानें तो बताया जा रहा है लडभड़ोल तहसील क्षेत्र के सुप्रसिद्ध मंदिरों में श्रद्धालु भोलेनाथ के दर्शन नहीं कर पाएंगे। कहा जा रहा है इस बार इन दिनों में सभी प्रमुख मंदिर भक्तजनों के लिए बंद रहने वाले हैं। कोरोना महामारी को मद्देनज़र ये फैसला लिया है कि इस दौरान केवल मंदिर के पुजारी ही शामिल होंगे।

एसडीएम ने दी जानकारी
कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के चलते लडभङोल के प्रसिद्ध शिवालय नगुल महादेव मंदिर कुड्ड, त्रिवेणी महादेव मंदिर घटोड, लक्ष्मी नारायण मंदिर दलेड, पंचमुखी महादेव मंदिर लांगणा,सहित सभी मंदिर फिलहाल बंद ही रहेंगे। जोगिंदरनगर एसडीएम अमित मेहरा ने बताया कि धार्मिक स्थानों पर श्रद्धालुओं का प्रवेश फिलहाल वर्जित ही रहेगा जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती।





loading...
Post a Comment Using Facebook