22 October 2015

घोषणा के एक साल बाद भी नहीं खुली आटीआई, चुनाव के लिए था झूठा ताम-झाम: राजेंद्र चौहान

लडभड़ोल : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दिसंबर 2018 में लडभड़ोल दौरे के दौरान लडभड़ोल तहसील में आटीआई खोलने की घोषणा अपने अभिभाषण में की थी, लेकिन एक साल बीत जाने के बाद भी सरकार अपनी इस घोषणा को पूरा नहीं कर पाई है। यह आरोप जोगिन्दरनगर जन विकास सभा के अध्यक्ष राजेद्रं सिंह चौहान ने लगाए।

धरी रह गयी घोषणा
राजेद्रं चौहान ने कहा की मुख्यमंत्री की इस घोषणा से तहसील क्षेत्र के सैकड़ों बेरोजगार युवा ठगा हुआ महसूस कर रहे है, जो आईटीआई की स्थापना का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। सरकार ने इस आईटीआई में जुलाई 2019 के सत्र से शुरू करने की बात कही थी। सरकार का ऐसा करने का मकसद युवाओं को दक्ष बनाना था, लेकिन सरकार की यह घोषणा धरी की धरी रह गई।

भाजपा प्रत्याशी को वोट दिलाने के लिए थी जूठी घोषणा
उन्होंने कहा लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को वोट दिलाने के लिए मुख्यमंत्री ने यह झूठी घोषणा की थी। ऐसी झूठी घोषणाओं से क्षेत्र के युवा अपने आप को ठगा से महसूस कर रहे है। सरकार हर मंच से प्रदेश में युवाओं को दक्ष बनाए जाने की बात कर रही है, ताकि बेरोजगार युवा अपने पैरों पर खड़ा होकर चार पैसे कमा सके। लेकिन लडभड़ोल क्षेत्र में अभी तक आटीआई के खुलने से युवाओं के दक्ष बनने के सपने धरे के धरे रह गए हैं।

गुमराह करती है भाजपा
उन्होंने आरोप लगाया की भारतीय जनता पार्टी हिमाचल प्रदेश के लोगों को गुमराह करने का काम करती है। मुख्यमंत्री ने लडभड़ोल में आईटीआई और खुम्ब उत्पादन प्रोजेक्ट खोलने की घोषणा की थी तो लोगों की भारी भीड़ ने जमकर तालियाँ बजा कर मुख्यमंत्री की घोषणा का स्वागत किया था। लोकसभा प्रत्याशी को वोट दिलाने के लिए यह सारा ताम झाम किया गया था।

बंद हो झूठी घोषणाएं
उन्होंने कहा भाजपा सरकार को झूठी घोषणा नहीं करनी चाहिए थी। लडभड़ोल पिछड़ा इलाका है यहां पर विकास की अति आवश्यकता है। उन्होंने कहा की लडभड़ोल की जनता विधायक के साथ है तो विधायक को चाहिए कि सरकार से पूछे कि झूठी घोषणाएं क्यों की जा रही है।





loading...
Post a Comment Using Facebook